Please Wait...

गरुड़ जी के सवाल: Question of Garuda

गरुड़ जी के सवाल: Question of Garuda
Look Inside

गरुड़ जी के सवाल: Question of Garuda

$6.40
$8.00  [ 20% off ]
Quantity
Ships in 1-3 days
Item Code: NZD242
Author: श्री किरिट भाई जी (Shri Kirit Bhai Ji)
Publisher: Diamond Pocket Books Pvt. Ltd.
Language: Hindi
Edition: 2010
ISBN: 9788128808562
Pages: 79
Cover: Paperback
Other Details: 8.5 inch X 5.5 inch
weight of the book: 130 gms

पुस्तक के विषय में

गरूड़ जी के सवाल

श्रीमद्भागवत, ज्ञान कथा और लोकमंगलकारी रामचरित कथा के प्रवचन में समान अधिकार रखने वाले युवा श्री किरीट 'भाई जी' का जन्म 21 जुलाई सन् 1962 को पोरबंदर (गुजरात) में हुआ। उन्होंने आत्मज्ञान और ज्ञान के लोक विकास के लिए सात वर्ष की आयु में वल्लभकुल गोस्वामी श्री गोविन्द रायजी (गुरुजी) महाराज से दीक्षा प्राप्त की। दीक्षा प्राप्त करने के तुरंत बाद इंगलैंड निवासी हुए और वहां जीविका के लिए निमित्त चार्टर्ड एकाउंटेंसी में डिग्री प्राप्त की।

'भाई जी' का लंदन आना विश्व के धर्मशील व्यक्तियों के लिए उस समय वरदान सिद्ध हुआ, जब 1987 में हुनमान जयंती के अवसर पर आपने कथा प्रवचन प्रारंभ किया। लंदन में इस कथा प्रवचन से भक्तों को एक नया प्रकाश मिला और उसके बाद विभिन्न रूपों में मारीशस, दक्षिण अफ्रीका (डर्बन), पाकिस्तान, कीनिया, इटली, हालैंड आदि स्थानों पर मधुर और अगाथ ज्ञानयुक्त कथा प्रवचन से वर्तमान जीवन की विसंगतियों से युक्त मनुष्य को धर्मशीलता का मार्ग दिखाया।

पूज्य किरीट भाई भक्तिभाव का एक ऐसा सागर है, जिसका कोई किनारा नहीं, उसकी लहर री रसामृत का पान कराने के लिए गतिमान होती है और उसकी लहर ही प्राप्ति के किनारे का आभास कराती है।

Sample Page


Add a review

Your email address will not be published *

For privacy concerns, please view our Privacy Policy

Post a Query

For privacy concerns, please view our Privacy Policy

CATEGORIES

Related Items