30 दिन में सीखो अंग्रेज़ी: Learn English in 30 days

Description Read Full Description
निवेदन अंग्रेज़ी भाषा से अपरिचित व्यक्ति कोई न होगा। अंग्रेज़ी केवल इंग्लैड की ही भाषा नहीं है, अपितु अमेरिका एवं अस्ट्रेलिया भूखण्डों की भी भाषा है। विश्व में कोई ऐसा देश नहीं है जहा...

निवेदन

अंग्रेज़ी भाषा से अपरिचित व्यक्ति कोई होगा। अंग्रेज़ी केवल इंग्लैड की ही भाषा नहीं है, अपितु अमेरिका एवं अस्ट्रेलिया भूखण्डों की भी भाषा है। विश्व में कोई ऐसा देश नहीं है जहाँ अंग्रेज़ी का प्रचलन हो।

अंग्रेज़ी भाषा भारत की सरकारी भाषा के रूप में सौ साल से अधिक काल तक रह चुकी है, अब भी है। भारत के स्कूलों में अब भी अंग्रज़ी की पढ़ाई जाती है। उसे छोड़ना अब कठिन सा हो गया है। अंग्रज़ी माध्यम स्कूलों में अपने बच्चों को छोडना कुलीनता का लक्षण माना जाता है समाज के निम्न वर्ग से ले कर उच्च वर्ग तक के सभी प्रकार के लोगों के मुँह से अंग्रेज़ी के दो चार शब्द निकले बिना दिन नहीं कटता। अंग्रेजी के दो चार वाक्य कहना लोग अपना गौरव मानतें हैं।

लोगों के मन में और थोडी अंग्रेज़ी सीख जाने की उत्कंठा 'दिनो दिन बढती रही है। उन की अभिरूचि क्षमता, अवकाश इन्यादियों को ध्यान में रख कर नवीनतम एवं सरलतम प्रणाली में इस पुस्तक को लिख कर पाठकों के सम्मुख प्रस्तुत करने में बडा आनन्द हो रहा है।

घूम घूम कर फल, तरक़ारियाँ आदि बेचने वाले फेरीवाले, छोटी-बडी दूकानों में काम करनेवाले, समझ की शक्ति के अभाव में अंग्रेज़ी के कच्चे विद्यार्थी, विद्यार्थी जीवनको खेल मजाक में गवा कर अब तरसने वाले नवयुवक, बच्चों को पढ़ाने-लिखाने मे उत्सुक गृहिणी, बच्चों को अंग्रेज़ी में बोलते देख स्वयं भी बोलने के लिए प्रयत्नशील बूढे आदि सब के सब इस पुस्तक से आशा से अधिक लाभ उठा सकते हैं।

अपनी शैली कै अनुसार इसे सात अगों में लिखा गया है। पहले भाग में अंग्रेजी के अक्षरों का ज्ञान कराया गया है उस के उच्चारण में और शब्दों को पढने में जो कठिनाइयाँ होती हैं उन्हे उगम सुबोध बनाने के लिए कुछ ऐसे नियमित पाठ दिये गये हैं, जिन का अध्ययन कर लेने पर पाठक किसी भी अंग्रेजी के शब्द को सरलता पूर्वक पढ सकेगा प्रत्येक अक्षर शब्द का उच्चारण तथा हिन्दी तात्पर्य भी दिये गये हैं।

दूसरे भाग में ऐसे अनेक शब्द उच्चारण एवं अर्थ के साथ दिये गये हैं, जो प्रतिदिन के व्यवहार में आते ही रहते हैं।

तीसरे भाग में नित्य जीवन में प्रयोगित होने वाले छोटे छोटे वाक्य सोच्चारण और सार्थ दिये गये हैं। पाठक इन्हे पढ कर वाक्य की बनावट जान सकते हैं

चोथा भाग वाक्य रचना यानि व्याकरण से सम्बन्धित है इस में अग्रेजी के शुद्ध वाक्यों को लिखने और बोलने का अभ्यास दिलाने के उद्देश्य से व्याकरण के आधार पर वाक्य दिये गये है तथा जहाँ आवश्यक हो वहाँ पाठ के नीचे व्याकरण सम्बन्धी टिप्पणी दी गयी है व्याकरण में अभिरुचि रखने वाले इस से अंग्रेजी के व्याकरण का ज्ञान प्रास कर सकते हैं।

पाँचवा भाग अंग्रेजी को जल्दी-जल्दी पढ कर अर्थ समझने की क्षमता बढाने के लिए है। इसलिए कुछ ऐसे छोटे छोटे लेख कहानियाँ आदि दिये गये हैं, जो पाठकों को पहले ही मालूम है। पाठकों की सुविधा के लिए अंग्रेजी के नीचे उस का उच्चारण तथा उस के नीचे हिन्दी दी गयी हैं। पाठक उच्चारण के अंश पर स्थान दिये बिना ही पढने का प्रयास करें।

छठे भाग में पुन : 'वाक्य रचना याने व्याकरण के आधार पर वाक्य तथा अर्थ दिये गये हैं। पाठ के नीचे व्याकरणिक टिप्पणी भी दी गयी है। पाठकों में स्वयं ही पढते जाने की अभिरुचि पैदा कराने के अभिप्राय से यहाँ उच्चारण नहीं दिया गया है। ऐसे बहुत से पाठक हैं जो व्याकरण के नाम से ही डरते हैं इसलिए पाठो के शीर्षक संज्ञा, सर्वनाम, कारक, क्रिया, विशेषण आदि दें, उन को सूचित करने वाले शब्द याने लड़का, वह, लडके को, किया, अच्छा लड़का आदि दिये गये हैं। अन्त में मुहावरे तथा कहावतें भी दी गयी हैं।

अन्तिम भाग में कुछ आवश्यक पत्र, तार बातचीत आदि दिये गये है आखिर में कुछ कहानियाँ तथा कथांश भी दिये गये है, जिन को पड़ते पढ़ते पाठकों को केवल मनोरंजन ही होगा, आपितु आत्मविश्वास भी होगा।

विश्वास करता हूँ कि पाठक इस से बहुत फ़ायदा उठाएँगे, विशेष कर हाई स्कूल के विद्यार्थी-विद्यार्थियाँ यदि कहीं कुछ सन्देह हो अथवा कोई सुझाव हो तो निःसंकोच हमें लिखें।

अन्त में इस पुस्तक को लिख कर पुस्तक के रूप में लाने में जो लोग सहायक रहे, उन सभी को मेरे हार्दिक धन्यवाद हैं।

 

विषय-सूची

 

1

निवेदन

1

2

प्रकाशक का वक्तव्य

4

3

अंग्रेजी के अक्षरों के लिखने की विधि

5

पहला भाग (अक्षर)

 

4

वर्णमाला

9

5

एक शब्दांश वाले शब्द

11

6

दो शब्दांश वाले शब्द

13

7

तीन शब्दांश वाले शब्द

15

8

अंग्रेजी के स्वर वर्ण तथा उन के उच्चारण

17

9

सम्युक स्वर वर्ण

28

दूसरा भाग (शब्द)

 

10

कुछ सरल शब्द

33

11

शरीर के अंग

41

12

सम्बन्धी

43

13

वृक्ष तथा उन के अवयव

45

14

ग्रहस्थी की सामाग्रियाँ

46

15

इमारत

48

16

पहिनने और ओढ़ने के वस्त्र

50

17

भोजन के पदार्थ

51

18

मसाले

53

19

तरकारियाँ

54

20

जानवर

55

21

पक्षी वर्ग

57

22

कीड़े मकोड़

58

23

फल

59

24

फूल

60

25

आभूषण

61

26

व्यवसाय

62

27

प्रकृति

64

28

रंग

66

29

गिनती

67

30

क्रमवाचक शब्द

69

31

सप्ताह और महीना

70

32

विशेषण

71

33

रोग

72

34

औजार

73

35

काल

74

36

ऋतु और जलवायु

75

37

खनिज पदार्थ

76

38

समिति

77

39

प्रकाशन

78

40

शिक्षा

70

41

डाक

80

42

उद्योग

81

43

कार्यालय

82

44

राष्ट्र

84

45

न्याय सम्बन्धी

86

तीसरा भाग (वाक्य)

 

43

दो शब्द वाले (वाक्य)

87

44

तीन शब्द वाले वाक्य

90

45

चार शब्द वाले वाक्य

92

46

आज्ञार्थक वाक्य

94

47

आज्ञार्थक वाक्य

96

48

मेरा घर

98

49

घडी

100

50

इरकान में

102

51

पशु पक्षियों की आवाजे

104

52

परिचय

106

53

कुछ उपयोगी वाक्य

108

चौथा भाग - (वाक्य रचना-I व्याकरण)

56

है- था-होगा

111

57

नही है

118

58

क्या वह?

119

59

करता है-किया-करेगा

121

60

जाता है

122

61

जाएगा

124

62

गया

126

63

भूतकालिक क्रिया बनाने के नियम

128

64

कुछ उपयोगी सबल क्रियाएँ

130

65

A (AN) और THE

133

66

लड़के (को)

137

67

लड़के को के लिए

138

68

लड़के का

139

69

सकारक सर्वनाम

140

70

लड़का-लड़के

143

71

अच्छा लड़का

149

72

जल्दी करों

150

73

कह रहा है कह रहा था कर रहा होगा

153

74

जा रहा हैँ

154

75

जा रहा था

155

76

जा रहा होगा

156

77

के अन्दर

157

78

और-या

160

पाँचवाँ भाग (शीघ्र वाचन-कहानियाँ)

79

मातृ भूमि

161

80

चतुर कौआ

163

81

झगडे का परिणाम

166

82

कुत्ते की परछाई

169

83

तुम कितने सुन्दर हो

171

84

अन्धे का चिराग

173

85

वे खट्टे हैं

175

86

सालमन की समझदारी

177

87

उस वाणी को सुनो

179

88

वानर

180

छठा भाग (वाक्य रचना-2: व्याकरण)

 

89

कुछ शब्दांशों के उच्चारण

181

90

अनुच्चरित वर्ण

183

91

पास है-पास था-पास होगा

184

92

आया है- आया था- आया होगा

185

93

पास्ट पाटिसिपिल

187

94

सकता है-शायद हो सकता है

190

95

छोटा-सबसे छोटा

192

96

उत्तम - उत्तमता उत्तमतम

193

97

जाऊँ - जावें न जावै

194

98

करता है - किया जाता है

195

99

करना - करने के लिए

196

100

करके - करता हुआ - किया हुआ

197

101

वाक्य रचना के नियमों को ध्यान मे रखते हुए पढ़िए

198

102

विशेषण उपवाक्य

204

103

क्रिया विशेषण उपवाक्य

207

104

संज्ञा उपवाक्य

209

105

प्रन्यक्ष व परोक्ष कथन

211

106

संज्ञा प्रधान मुहावरेदार वाक्यांश

214

107

विशेषण संज्ञा वाले मुहावरेदार वाक्यांश

215

108

विभक्ति वाली क्रिया के मुहावरे

216

109

क्रिया के हो रह मे अन्त होने वाले मुहावरे

218

110

कहावते

220

111

सामान उच्चारण वाले शब्द

226

112

सातवाँ भाग (पत्र बातचीत कहानियाँ आदि) सुवाणी

227

113

पत्र सालगिरद्द का निमन्त्रण

229

114

रुपयों की मांग छूटी के लिए

230

115

पुस्तके मंगवाना

232

116

चन्द भेजना

234

117

पुस्तके भिजवाने के लिए

236

118

चीजे मंगवाने के लिए

238

119

पत्र का पता बदलाने

240

120

चेक की जमा रकम

242

121

रकम जमा करना

224

122

कर्ज लेने का आवेदन

246

123

दर्जी की नौकरी के लिए आवेदन

248

124

प्रमुख रसोइये के लिए आवेदन

250

125

तार

252

126

बातचीतन मैं दर्जी बनूंगा

254

127

होशियार लड़का

256

128

अरे ओ कूली

258

129

तुम्हारा क्या विचार है

260

130

डाक घर

262

131

रेलगाड़ी में

264

132

उपग्रह

266

133

सब्जी मंडी

268

134

डाक्टर के साथ

270

135

संगीत सम्मेलन

272

136

रश्मी रशमी भवन

274

137

हवाई अड्डे पर

276

138

जलपान ग्रह में

278

139

बचत बैंक खाता

280

140

कहानियाँ: रेल गाड़ी में एक बूढ़ी स्त्री

282

141

चतुर चेला

284

142

मुझ से बड़ा

286

143

तीन चौर

288

144

ब्रहामण का स्वप्न

290

145

तुम मेरे परमात्मा हो

294

146

शेर बनाने वाले

298

147

कहानी अंश: क्या मैं अस्वस्थ है

304

148

क्या हो गया हैं?

306

149

वह एक स्त्री है

308

150

चल बसी

310

151

Abbreviations

312

152

Life of my life

320

Sample Page


Item Code: NZA770 Author: गणपति(Ganapati) Cover: Paperback Edition: 2013 Publisher: Balaji Publications Chennai Language: Hindi Text with Translitration and English Translation Size: 7.0 inch X 5.0 inch Pages: 338 Other Details: Weight of the Book: 230 gms
Price: $10.00
Best Deal: $8.00
Shipping Free
Viewed 4939 times since 20th Apr, 2014
Based on your browsing history
Loading... Please wait

Items Related to 30 दिन में सीखो अंग्रेज़ी:... (Language and Literature | Books)

हिन्दी इंग्लिश टीचर: Learn English in 60 Days Through Hindi
Learn Oriya in 30 Days (Here is the Easiest Way to Learn Oriya, Read Oriya, Write Oriya, Speak Oriya and Convers in Oriya through English)
Learn Sanskrit in 30 Days (The Easiest Way to Learn, Read, Write, Speak and Converse in Sanskrit through English)
Learn Urdu in 30 Days (Here is the Easiest Way to Learn Urdu, Know Urdu, Understand Urdu, Read Urdu, Speak Urdu, Write Urdu and To Converse in Urdu through English)
Let's Learn Hindi with English-Hindi Dictionary
३० दिनों में हिन्दी सीखें: Learn Hindi in 30 Days Through English (With Transliteration)
Learn Hindi in 30 Days Through English
Let’s Learn and Read Urdu-English
Star Learners’ Dictionary: English-Urdu Urdu-English (With Transliteration)
Learners’ Multilingual Dictionary (English-English-Kannada/Malayalam/Tamil/Telugu)
Learner's Hindi-English Thematic Visual Dictionary (Superbly Illustrated)
Advanced Learner's English–Hindi Dictionary
Oxford Elementary Learner's English-Urdu Dictionary
English-Urdu Urdu-English Combined Dictionary
Urdu (Romanised) – Hindi-English Dictionary (English Alphabetical Order)
Testimonials
Thank you for such wonderful books on the Divine.
Stevie, USA
I have bought several exquisite sculptures from Exotic India, and I have never been disappointed. I am looking forward to adding this unusual cobra to my collection.
Janice, USA
My statues arrived today ….they are beautiful. Time has stopped in my home since I have unwrapped them!! I look forward to continuing our relationship and adding more beauty and divinity to my home.
Joseph, USA
I recently received a book I ordered from you that I could not find anywhere else. Thank you very much for being such a great resource and for your remarkably fast shipping/delivery.
Prof. Adam, USA
Thank you for your expertise in shipping as none of my Buddhas have been damaged and they are beautiful.
Roberta, Australia
Very organized & easy to find a product website! I have bought item here in the past & am very satisfied! Thank you!
Suzanne, USA
This is a very nicely-done website and shopping for my 'Ashtavakra Gita' (a Bangla one, no less) was easy. Thanks!
Shurjendu, USA
Thank you for making these rare & important books available in States, and for your numerous discounts & sales.
John, USA
Thank you for making these books available in the US.
Aditya, USA
Been a customer for years. Love the products. Always !!
Wayne, USA