क्षमा करो, सुखी रहो: Forgive and Be Happy
Look Inside

क्षमा करो, सुखी रहो: Forgive and Be Happy

$18
Quantity
Ships in 1-3 days
Item Code: NZA935
Author: जे.पी.वासवानी (J.P.Vaswani)
Publisher: Sterling Publishers Pvt. Ltd.
Language: Hindi
Edition: 2013
ISBN: 9788120784321
Pages: 144
Cover: Paperback
Other Details 8.5 inch X 5.5 inch
Weight 180 gm

पुस्तक के बारे में

"मनुष्य से गलती होती है और उसे क्षमा करना दिव्यता है" ये एक प्रसिद्ध कहावत है। अगर आप में कभी अपने अंदर की दिव्यता का बोध करने की इच्छा जागी है, तो आपको इधर-उधर भटकने की जरूरत नहीं है। दादा जे. पी. वासवानी की इस प्रभावशाली पुस्तक के पृष्ठों से आप क्षमाशीलता के जादू में निपुण होने के तरीके सीख सकते हैं।

क्षमाशीलता क्या है? हम किसी को क्षमा क्यों करें? किर तरह क्षमाशीलता हमें शक्ति देती है, हमें राहत देती है और अतीत को भुलाकर, हमें नया जीवन जीने में मदद करती है?

इन प्रश्नों व अन्य कई प्रश्नों के उत्तर इसमें दिए गए हैं। दादा जे.पी. वासवानी का मानव-स्वभाव का ज्ञान बड़ा गहरा है और साथ ही वे करुणाशील व तटस्थ हैं। वे हमें सिखाते हैं कि किस तरह शालीनता से क्षमा माँगनी चाहिए; किस तरह उदारता से क्षमा करना चाहिए, बिगड़े हुए रिश्तों को किस तरह फिर से बनाना चाहिए, बैर व कटुता को कैसे मिटाना चाहिए; और ज़रूरत पड़ने पर हमें स्वयं को कैसे क्षमा करना चाहिए; और सबसे बढ़कर किसी को क्षमा करके कैसे भूल जाना चाहिए।

 

विषय सूची

1

क्रोध से क्रोध समाप्त नहीं होता

7

2

हम क्षमा क्यों करें?

15

3

क्षमाशीलता क्या है?

24

4

क्षमाशीलता स्व-इच्छा का काम है

28

5

क्षमाशीलता दिव्यता है

36

6

क्षमाशीलता शक्ति है

39

7

क्षमाशीलता आपको स्वस्थ कर सकती है

42

8

अतीत को दफना दो

56

9

ईश्वर ने जो भुला दिया, उसे आप भी भुला दीजिए

61

10

दुःखदायी बातों को भूलना सीखें

65

11

क्षमाशीलता की चार अवस्थाएँ

67

12

शालीनता से क्षमा माँगना

71

13

रिश्तों को कायम रखना

75

14

क्षमाशीलता को व्यवहार में लाएँ

78

15

महान लोगों की साक्षी

80

16

व्यावहारिक सुझाव नं:1

89

17

व्यावहारिक सुझाव नं:2

94

18

व्यावहारिक सुझाव नं:3

101

19

व्यावहारिक सुझाव नं:4

106

20

व्यावहारिक सुझाव नं:5

111

21

व्यावहारिक सुझाव नं:6

116

22

व्यावहारिक सुझाव नं:7

124

23

व्यावहारिक सुझाव नं:8

129

24

व्यावहारिक सुझाव नं:9

132

Add a review
Have A Question

For privacy concerns, please view our Privacy Policy

CATEGORIES