गम्भीर व्याधि निदान चिकित्सा: Treatment of Serious Diseases
Look Inside

गम्भीर व्याधि निदान चिकित्सा: Treatment of Serious Diseases

FREE Delivery
$24
Quantity
Ships in 1-3 days
Item Code: NZH241
Author: श्री शिवप्रसाद रथ (Shri Shiv Prasad Rath)
Publisher: Chaukhambha Visvabharati , Varanasi
Language: Hindi
Edition: 2015
ISBN: 9789381301715
Pages: 130
Cover: Paperback
Other Details 8.5 inch X 5.5 inch
Weight 180 gm

पुस्तक परिचय

वैद्य शिवप्रसाद द्वारा ओड़िआ भाषा में लिखित 'वैद्यशतकम्' गम्भीर व् आत्ययिक (१०२) रोगों का सफल चिकित्सा ग्रन्थ है! आयुर्वेद में सर्वांग (Gullen Barre Syndrome) मस्तिष्कगत रक्तस्राव व् इसकी चिकित्सा मस्तिष्क आघात व द्विध दृष्टि , मस्तिष्क आघात व पूय चक्षु, विचित्र स्वास रोगी, घनिष्ट मित्र के पिताजी का सन्निपात, आंतरिक यक्ष्मा, वो था नवम, संतान, महाराज का श्वास, मधुमेहज कोथ, अग्न्याशय ग्रंथि व मधुमेह, फिरंगज वाट रोग आमवातज, हृद, रोग आदि असाध्य रोगों का सफल आयुर्वेदिक चिकित्सा वर्णित है! आंत्रपुच्छ शौथ अग्निदग्ध वर्ण संन्यास अप्रगट रक्तस्राव रक्तिसार , गर्भशल्य आदि आत्ययिक रोगों का आयुर्वेदिक चिकित्सा नए चिकित्सकों का आत्मविश्वास बढ़ाता है!, मृत्युंजय रास का ज्वर के अतिरिक्त दंतशूल, रक्तातिसार, आंत्रपुच्छ प्रदाह व वर्ण में प्रयोग नए चिकित्सकों को नूतन दिक्दर्शन करता है! इसी तरह गुडूच्यादि टेल का सलयक्रम, सद्दोवरण, शय्या वर्ण अग्निदग्ध वर्ण में प्रयोग भैषज कल्पना के क्षेत्र में शोध कार्य है ! मूँछ दाढ़ी का सुख, शुष्क स्तन्यता से मुक्ति सम्पूर्ण स्पर्श लोप, जनित षण्डता, अंत; स्त्रावी विकृति जन्य रोग आदि का आयुर्वेदिक चिकित्सा लेखक का अभिनव प्रचेष्टा है! ओड़िआ में प्रचलित मुण्डिका चोपचीनी , अभेरससयां नवग्राही रास आदि योगो के संगटक द्रव्यों एवं निर्माण विधि का वर्णन किया गया है! या पुस्तक आयुर्वेद छात्रों व चिकित्सकों के लिए अवश्य सहायक होगा


Sample Pages


Add a review
Have A Question

For privacy concerns, please view our Privacy Policy

CATEGORIES